केदारनाथ में तेज होगा पुनर्निर्माण कार्य CM Rawat launches more reconstruction projects in Kedarnath

केदारनाथ में तेज होगा पुनर्निर्माण कार्य  CM Rawat launches more reconstruction projects in Kedarnath


मुख्यमंत्री हरीश रावत ने श्री केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण व पुनर्वास कार्यो के अन्तर्गत लगभग 115 करोड रूपये लागत की विभिन्न योजनाओं का लोकापर्ण व शिलान्यास किया। इनमें 23 करोड रूपये से अधिक लागत की योजनाओं का लोकापर्ण किया गया जबकि 91 करोड रूपये से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास किया


त्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत आज (October 15, 2015) केदारपुरी पहुंचे जहां उन्होंने केदारनाथ में गतिमान कार्यो का निरीक्षण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये। उन्होंने चैराबाडी ग्लेशियर क्षेत्र में निम एवं जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि विशेष एक्सपर्ड टीम को क्षेत्र में भेजकर निरीक्षण करावाएं जिससे केदारपुरी की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हो जाय। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि उनके द्वारा देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख कर आग्रह किया जायेगा कि वह अपने राज्य की ओर से लिंचैली/केदारनाथ में अपने राज्य का धाम बनाएं जिसके लिये राज्य सरकार उन्हें केदारनाथ क्षेत्र में भूमि उपलब्ध करायेगी। प्रधानमंत्री श्री मोदी से भी आग्रह किया गया कि केन्द्र सरकार के सहयोग से चल रहे पुनर्निर्माण कार्यो का केदारनाथ आकर निरीक्षण करें।

CM Photo 10, dt. 15 October, 2015
उन्होंने कहा कि आपदा के बाद केदारनाथ में अधिकारियों एवं कर्मचारियों, निम के श्रमिकों द्वारा विषम भौगोलिक परिस्थतियों में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने इस दौरान निम के श्रमिक विकास शाही, शनम शाही, मनराज सिंह, धन बहादुर, टकेन्द्र बहादुर आदि श्रमिकों से हाथ मिलाकर उन्हें शाबासी देते हुए उनकी कुशलता भी पूछी।

CM Photo 02, dt. 15 October, 2015

मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि आपदा से पूर्व वर्ष 2012 के अपेक्षा इस यात्रा सीजन में अधिक तीर्थ यात्री दर्शन के लिये पहॅुचे। उन्होंने कहा कि तीर्थ पुरोहितों से कहा कि वह देश-विदेश में जहां भी उनके यजमान है, उनसे केदारनाथ धाम के दर्शन करने के लिये आग्रह करें और बतांए कि केदारनाथ यात्रा सुरक्षित यात्रा है। इस दौरान उन्होंने धाम में पहॅुचे जर्मन निवासी एलोना व डेरक जैनसन से भी बातचीत की और कहा कि वे अपने देश जाकर सुरक्षित केदारनाथ का संदेश दें। उन्होंने गौरीकुण्ड से केदारनाथ धाम पैदल पहुंचे छोटे-छोटे बच्चे सार्थक व उपार्थ से पैदल यात्रा के दौरान पड रहे मार्गो के बारे में जानकारी ली। बच्चों ने सीएम को अवगत कराया कि पैदल मार्ग पूरी तरह ठीक है अब किसी भी तीर्थ यात्रियों को घबराने की बात नहीं है। 


CM Photo 07, dt. 15 October, 2015
गुरूवार को श्री केदारनाथ धाम में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री रावत द्वारा लोकार्पित की गई योजनाओं में श्री केदारनाथ धाम क्षेत्र में पुनर्निर्माण कार्यो को गति प्रदान करने के उद्देश्य से भारी मशीनों की आपूर्ति हेतु निर्मित एमआई-26 हैलीपैड लागत 10.60 करोड रूपये, केदारनाथ घाटी में संचार तंत्र के सुदृढीकरण एवं तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा व सुविधा के लिये जिला आपदा प्रबन्धन (डीडीएमए) रूद्रप्रयाग द्वारा क्रियान्वित किये जाने वाले विभिन्न आईटी प्रोजेक्ट यथा वाईफाई व लोकल इंटरनेट का इंस्टालेशन, श्रीकेदार रेस्क्यू एंड्रायड एप्लीकेेशन, खच्चरों व घोडों की आरएफआईडी ट्रेकिंग, मौसम के एलईडी डिजीटल डिस्प्ले बोर्ड लागत 4.60 करोड रूपये, श्री केदारनाथ धाम में यात्रियों को आधुनिक आवासीय सुविधा प्रदान करने हेतु निर्मित 25 काॅटेज 4.80 करोड रूपये, श्री केदारनाथ मंदिर के पृष्ठ भाग में एमआई-17 हैलीपैड 1.71 करोड रूपये, एमआई-17 हैलीपैड के निकट निर्मित यात्रा स्वागत केन्द्र 78 लाख रूपये, एमआई-16 हैलीपैड पर निर्मित तीर्थ यात्री स्वागत केन्द्र 78 लाख रूपये, एमआई-26 हैलीपैड पर तीर्थ यात्री भोजनालय 61 लाख रूपये शामिल हैं।


CM Photo 05, dt. 15 October, 2015
इस मौके पर जिन योजनाओं का शिलान्यास किया गया उनमें वर्ष 2013 की प्राकृतिक आपदा से प्रभावित श्री केदारनाथ धाम के भवन स्वामियों एवं तीर्थ पुरोहितों द्वारा पुनर्निर्माण के शुभ कार्य हेतु स्वेच्छा से राज्य सरकार को समर्पित निजी भूमि भवनों की प्रतिपूर्ति में उनके पुनर्वास के लिये नेहरू पर्वतारोहरण संस्थान द्वारा निर्मित किये जाने वाले 113 भवनों का निर्माण कार्य 41.95 करोड रूपये, श्रीकेदारनाथ मंदिर के पृष्ठ भाग में श्रीकेदारनाथ धाम की परिसम्पत्तियों एवं जनसामान्य की सुरक्षा के लिये त्रिस्तरीय बाढ़ सुरक्षा प्रणाली की प्रथम, द्वितीय और तृतीय सुरक्षा भिति का निर्माण कार्य 28.25 करोड रूप्ये, श्रीकेदारनाथ धाम में मंदाकिनी एवं सरस्वती नदी के संगम पर तीर्थ यात्रियों के पवित्र स्नान एवं पूजा अर्चना हेतु निर्मित किये जाने वाले घाट का शिलान्यास 8.85 करोड रूप्ये, श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति कार्यालय, भोग मण्डी व आवास स्थल का निर्माण कार्य 3.63 करोड रूपये, श्रीकेदारनाथ मंदिर के निकट प्रस्तावित प्रार्थना भवन, ध्यान केन्द्र 2 करोड रूपये, श्री केदारनाथ धाम में पंजाब सिंध लाॅज के सामने सरस्वती नदी पर वैली व्रिज लगभग 2 करोड रूपये, श्री केदारनाथ धाम में जीएमवीएन विश्राम गृह के निकट सरस्वती नदी पर वैली ब्रिज लागत 2 करोड रूपये, श्री केदारनाथ मंदिर के भव्यता को पूर्वस्वरूप में लाने हेतु सरस्वती नदी वैजी ब्रिज से श्रीकेदारनाथ मंदिर तक प्रस्तावित 50 फीट चैडे पैदल मार्ग का निर्माण कार्य 1.50 करोड रूपये व श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति प्रवचन हाॅल जीर्णोद्वार कार्य एक करोड रूपये शामिल हैं। 

CM Photo 06, dt. 15 October, 2015
इस अवसर पर जनपद प्रभारी मंत्री प्रीतम सिंह पंवार, कृषि मंत्री डाॅ हरक सिंह रावत, श्री बदरी -केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष गणेश गोदियाल, क्षेत्रीय विधायक/संसदीय सचिव श्रीमती शैलारानी रावत, सीएम सलाहकार रणजीत सिंह रावत, मीडिया प्रभारी सीएम सुरेन्द्र कुमार, मुख्य सचिव राकेश शर्मा, आयुक्त गढ़वाल मण्डल सीएस नपलच्याल, सचिव आपदा प्रबन्धन मीनाक्षी सुंदरम्, आईजी संजय गुंज्याल, महानिदेशक सूचना विनोद शर्मा, निम प्रधानाचार्य कर्नल अजय कोठियाल, जिलाधिकारी डाॅ राघव लंगर, संयुक्त मजिस्टेªट केदारनाथ यात्रा आशीष चैहान, पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा, तीर्थ पुरोहित श्रीनिवास पोस्ती, केदारसभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला, पूर्व अध्यक्ष किशन बगवाडी सहित तीर्थ पुरोहित, निम एवं श्री बदरी-केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे। इसके बाद सूबे के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने विकास खण्ड ऊखीमठ के अन्र्तगत दूरस्थ क्षेत्र जाल मल्ला में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का उद्घाटन भी किया।

CM Photo 13, dt. 15 October, 2015

Follow us: Uttarakhand Panorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!

Leave a Reply

13 − 12 =