पं0 नारायण दत्त तिवारी 90 ‘नाट आउट’ Bhishma Pitamah of Uttarakhand politics still going strong at 90

पं0 नारायण दत्त तिवारी 90 ‘नाट आउट’ Bhishma Pitamah of Uttarakhand politics still going strong at 90


उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व केंद्रीय मंत्री, पं0 नारायण दत्त तिवारी, जिनके चारों तरफ कभी राज्य की राजनीति घूमा करती थी, के जन्म दिवस पर आज हल्द्वानी में दिग्गज नेताओं के जमावड़ा लगा रहा जिसमें शामिल थे राज्य के मुख्यमंत्री हरीश रावत एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव. यह इतना दर्शाने के लिए काफी था की भले ही तिवारीजी नब्बे साल के होगा हों पर उनकी धमक अभी भी देहरादून और लखनऊ के राजनितिक गलियारों में मौजूद है


त्तराखण्ड एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री पं0 नारायण दत्त तिवारी के 90 वें जन्मदिवस पर आयोजित समारोह में प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, काबिना मंत्री वित्त डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश, राजस्व मंत्री यशपाल आर्य, श्रम मंत्री हरीश चन्द्र दुर्गापाल, नैनीताल सांसद भगत सिंह कोश्यारी, ने उनको जन्म दिन की बधाई देते हुए उनकी दीर्घायु की कामना की।

जन्मदिन समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि नारायण दत्त तिवारी 90 पर नाट आउट हैं, निश्चित ही वह सैन्चुरी बनायेंगे यही हमारी कामना भी है। उन्होनें कहा कि नारायण दत्त तिवारी एक असाधारण व्यक्तित्व के धनी है। तिवारी ने सभी क्षेत्रों में आदर्श स्थापित किये हैं। उन्होनें कहा कि पण्डित जी ने सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक क्षेत्रों के साथ ही विदेश नीति पर भी महत्वपूर्ण कार्य किये हैं। उनके द्वारा देश व प्रदेश के लिए किये गये कार्यों से उन्हें याद करते हैं तथा समय समय पर उनसे मार्गदर्शन भी प्राप्त करते हैं। आज भी लोकसभा व विधानसभाओं में उनके द्वारा किये गये विधायी एवं संसदीय कार्यों को याद किया जाता है। उनके अनुभवों का लाभ हमेशा प्रदेश को मिलता रहेगा तथा उन्होनें पण्डित जी से मार्गदर्शन देते रहने का अनुरोध भी किया। उन्होनें कहा कि उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड का बडा भाई है। हम दोनों मुख्यमंत्री दोनों प्रदेशो का विकास कर विकास की एक इबादत लिखेंगे। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश अखिलेश सिंह यादव ने कहा कि श्री तिवारी उत्तराखण्ड में जितने प्रिय है उससे कही ज्यादा लोग उन्हे उत्तरप्रदेश मे चाहते है। नेताजी भी उनका पूरा सम्मान करते है दोनो में साथ-साथ ही उत्तर प्रदेश के विकास की दिशा मे काम किया। उन्होने कहा कि मै अपनी ओर नेताजी के साथ पूरे प्रदेश की जनता की ओर से उनके स्वस्थ एवं दीर्घ जीवन की कामना करता हूं।


CM photo 01, dt.18 October, 2015
श्री अखिलेश ने कहा कि एनडी तिवारी की वजह से उत्तर प्रदेश व उत्तराखण्ड में मैत्री सम्बन्ध पहले से ज्यादा बेहतर हुये है, जल्द ही उत्तराखण्ड की परिसम्पत्तियो के निस्तारण के लिए उच्चस्तरीय निर्णय लिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि दोनो प्रदेशो के बीच मे दूरियां कम हो आवागमन सुगम हो इसको ध्यान में रखते हुये पं0 तिवारी के जन्म दिन के अवसर पर उत्तराखण्ड वासियों को बतौर सौगात बागेश्वर-बरेली आधुनिकतम 540 करोड की लागत से निर्मित राष्ट्रीय राजमार्ग का लोकापर्ण किया गया है। उन्होने कहा कि उत्तरप्रदेश उत्तराखण्ड के बडे भाई की भूमिका में है हम बडे भाई का फर्ज अदा करने मे पीछे नही रहेंगे। श्री यादव ने पं0 तिवारी की धर्मपत्नी डा0 उज्जवला तिवारी तथा उनके पुत्र रोहित शेखर तिवारी को भी शुभकामनायें दी है।


उत्तराखण्ड सरकार की ओर से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का वित्तमंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश का बुके देकर स्वागत किया । स्वागत सम्बोधन मे उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश से आने वाली सडको को अगर बेहतर कर दिया जाए तो उत्तराखण्ड के पर्यटन को बढावा मिलेगा। उन्होने श्री यादव से यह भी कहा कि परिसम्पत्तियो के मामलों को जल्द से जल्द निस्तारित किया जाए। अपने सम्बोधन में पं0 तिवारी को जन्म दिवस की ढेर सारी शुभकामनाये देते हुये कहा कि श्री तिवारी 1952 में विधायक बने थे। उत्तर प्रदेश उत्तरखण्ड के साथ ही देश के विकास मे आयाम स्थापित किये है वह अद्वितीय है। डा0 हृदयेश ने कहा कि श्री तिवारी इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष रहे इस कार्यालय में उन्होने ब्रिटिश हुकूमत का झण्डा उतारकर तिरंगा ध्वज फहराया था। उन्होने कहा कि विकास पुरूष के रूप मे विख्यात एनडी तिवारी के योगदान को हम कभी नही भुला सकते विकास की हर ईट पर एनडी तिवारी का नाम अंकित है।


अपने जन्मदिवस पर उमडे जन सैलाब से अभिभूत पण्डित तिवारी ने सभी का आभार व्यक्त किया। उन्होनें कहा कि यू0पी0 व उत्तराखण्ड के बीच सम्बन्ध ओर भी बेहतर हो रहे हैं। श्री तिवारी ने कहा कि उम्र के इस पडाव में मैं चाहता हूं कि मेरा पुत्र रोहित भी मेरी राजनीति मंे आकर समाज व देश की सेवा करें। उन्होनें इस काम के लिए सभी से रोहित का सहयोग एवं आशीर्वाद देने का अनुरोध किया।


अपने सम्बोधन में राजस्व मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि राजनीति के माहिर श्री तिवारी की पाठशाला मे पढकर आज मै इस मुकाम पर पहुचा हू। राजनीति के शुरूआती दौर से ही उन्होने तिवारी के सानिध्य मे रहकर बहुत कुछ सीखा। विकास के उसी पाठ से जो सीखा उसी को लेकर हम आज उत्तराखण्ड को ले जाने के लिए प्रयत्नशील है।


अपने सम्बोधन में श्रम मंत्री हरीश चन्द्र दुर्गापाल ने कहा कि एनडी तिवारी एक सर्वमान्य नेता हैं। विकास पुरूष एवं पर्वत पुत्र के नाम से विख्यात तिवारी ने विकास की जो रोशनी लालकुंआ क्षेत्र में जलायी थी। उससे आज सारा इलाका रोशन है। उनके विकास कार्यों को लोग हमेशा याद रखेंगे।


अपने सम्बोधन में एनडी तिवारी के पुत्र तथा उत्तरप्रदेश परिवहन निगम उपाध्यक्ष रोहित शेखर तिवारी ने कहा कि दोनों प्रदेशों के बीच मैत्री सम्बन्धों को और अधिक प्रगाढ बनाने में श्री तिवारी अपने महत्वपूर्ण दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं। उम्र के इस पडाव में पहुंचने के बाद भी श्री तिवारी विकास के लिए चिन्तित एवं तत्पर रहते हैं। उनके जहन में उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखण्ड में कोई भेद नहीं है। श्री शेखर ने कहा कि उनके जन्मदिवस में इतनी बडी संख्या में पहुंचकर जो बधाई दी है। उससे उनकी लोकप्रियता का आभास होता है।


पूर्व मुख्यमंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने पण्डित जी को जन्मदिन की शुभकामना देते हुए कहा कि पण्डित जी सचमुच नारायण हैं। उन्होनें हमेशा जनता का सेवक समझकर सेवा की है। उन्होनें पण्डित तिवारी जी को व्यक्तित्व का धनी बताते हुए कहा कि उन्हें विकास के लिए हमेशा याद किया जायेगा। हम सभी को उनके मार्गदर्शन में चलकर व एकजुट होकर प्रदेश को विकास के पथ पर आगे ले जाना होगा तभी पण्डित जी का सपना साकार होगा, यही पण्डित जी के जन्मदिन का उपहार होगा।


समारोह में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, मेयर हल्द्वानी डा0 जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला, पूर्व मंत्री एवं राज्य बीच प्रमाणीकरण संस्था के अध्यक्ष तिलकराज बेहड, यूपी के पूर्व मंत्री ठा0 प्रेम प्रकाश सिंह, यूपी के राज्य पुर्नगठन सलाहकार विनोद बर्थवाल, उपध्यक्ष जलागम प्रबन्ध दिनेश कुंजवाल उपस्थित थे ।


Follow us: Uttarakhand Panorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

2 Comments

  1. Shyam Singh Rawat December 16, at 11:14

    पं0 नारायण दत्त तिवारी 90 ‘नाट आउट’ रिपोर्ट में भाषागत अनेक दोष हैं। वाक्य रचना, वर्तनी तथा प्रस्तुतीकरण की कमियां खटकती हैं। भाषा पर पकड़ बेहद आवश्यक है। इसे किसने और कब लिखा यह भी पता नहीं चलता। पोर्टल से अच्छे व स्थापित पत्रकारों, लेखकों, संस्कृतिकर्मियों, बुद्धिजीवियों तथा विभिन्न क्षेत्रों के विद्वानों को जोड़ना जरूरी है, अन्यथा यह पोर्टल जल्दी ही भीड़ में खो जायेगा।

    Reply
    • Uttarakhand Panorama December 17, at 06:09

      सर्वप्रथम तो में आपको धन्यवाद देना चाहूंगा कि अपने समय निकाल कर उत्तराखंड पैनोरमा वेबसाइट को देखा। आप जैसे पाठक जब वेबसाइट में जा कर पोस्ट्स को पढ़ते हैं तो अत्याधिक हर्ष होता है। जहाँ तक भाषा में त्रुटियों का सवाल है, हमारा हर प्रयास इस वेबसाइट को बेहतर बनाने में लगा हुआ है। आपसे अनुरोध है कि आप भी हमें सहयोग करते रहें। हम लगातार यह प्रयास कर रहे हैं कि इस वेबसाइट से अच्छे से अच्छे पत्रकार, बुद्धिजीवी और आम मानस जुड़े। जो भी पोस्ट बिना क्रेडिट के होता है, उसका क्रेडिट सीधे उत्तराखंड पैनोरमा के एडिटर और उनकी टीम को जाता है।

      Reply

Leave a Reply

three × three =