मुख्यमंत्री ने खोला धारचूला के लिए सरकारी खजाना CM announces various scheme for border town

मुख्यमंत्री ने खोला धारचूला के लिए सरकारी खजाना  CM announces various scheme for border town

मु

ख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि सामाजिक कल्याण के लिए पूरे देश में सबसे अधिक धनराशि उत्तराखण्ड राज्य व्यय कर रहा हैं ताकि गांव की तस्वीर बदली जाय। इस हेतु मिशन मोड में कार्य करें विकास कार्यों को आगे बढ़ाने हेतु कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में आर्थिक रूप से परिवर्तन एवं मजबूती लाने हेतु सरकार द्वारा परम्परागत खेती को बढ़ावा दिये जाने के साथ ही किसानों को फाफर, मडुवा, दुग्ध उत्पादन आदि में प्रोत्साहन धनराशि दी जा रही है।

मंगलवार को तहसील धारचूला के स्टेडियम मैंदान में क्षेत्र के विकास हेतु स्वीकृत विभिन्न विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम के पश्चात् आयोजित जनसमस्या शिविर में संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने महिला स्वंय सहायता समूह को और अधिक सक्रिय करते हुए जड़ीबूटी उत्पादन पर कार्य करने की अपील की। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में तिमोर का वृक्षारोपण भी कराया जायेगा ताकि काश्तकारों को इसका भी लाभ मिल सकें ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के विकास तथा जनता के जीवनस्तर में सुधार लाने हेतु जनहित में अनेक निर्णय लिये जा रहे है जिनका क्रियान्व्यन भी तेजी से किया जा रहा है।

CM Photo 05, dt.27 October, 2015
मुख्यमंत्री ने कहा कि सीमांत क्षेत्र धारचूला के विकास हेतु एक साथ 13 सड़कों का निर्माण कार्य प्रारम्भ किया जा रहा है। इन सड़कों का निर्माण कार्य समय पर पूर्ण हो इस हेतु वे स्वंय समय-समय पर स्वंय कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे उन्होंने कहा कि हम सड़कों के निर्माण कार्यो में अभी पीछे हैं इन सड़कों के निर्माण हेतु तत्परता से कार्य कराया जा रहा है। उन्होंने दारमा घाटी में सड़को के निर्माण कार्यों को आगे बढ़ाये जाने की भी बात कही। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सभी उम्र के लोगों के कल्याणर्थ विभिन्न योजनायें संचालित की गयी है जनता दरबार में मुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न लोेगों की जनसमस्यायें सुनी ।

 
मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास हेतु विभिन्न प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजने के निर्देश जिलाधिकारी को दिये क्षेत्र के ग्राम दरब्यांग जो लगातार भूस्खलन के खतरे में आ रहा है उक्त गांव का सीडीओ से सिंचाई विभाग के साथ निरीक्षण कर प्रस्ताव शासन को भेजने के निर्देश दिये। उन्होंने क्षेत्र के जिप्ती, माला, सोबला, बुंगबुंग, ताकुल में विद्युतीकरण की जो समस्यां है के समाधान हेतु दिसम्बर माह से इन क्षेत्रों में विद्युतीकरण कराने के निर्देश दिये। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने क्षेत्र में स्वीकृत सड़कों के निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में विकास कार्य जो तेजी से कराये जा रहे है उससे राष्ट्रीय तथा अंतराष्ट्रीय पर्यटन के क्षेत्र मेें लाभ मिलेंगा उन्होंने कहा कि क्षेत्र की नदियों के हो रहे कटाव कि रोकथाम हेतु 200 करोड़ के कार्य अगले वर्ष तक कराये जायेंगे। उन्होंने उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए कहा कि छोटा कैलास यात्रा का इस वर्ष होमस्टे के माध्यम से कुटी के लोगों ने पर्यटकों को बेहतर सुविधा दी। जिससे अच्छा संदेश पर्यटकों मे गया है। उन्होंने कहा कि कैलास मानसरोवर यात्रा की तर्ज पर ऊं पर्वत की यात्रा को भी शीघ्र शुरू की जायेंगी। क्षेत्र को ट्रैकर पैराडायिस के माध्यम से क्षेत्र में विभिन्न कार्य किये जा रहे है।

CM Photo 01, dt.27 October, 2015
इस अवसर पर वन विकास निगम के अध्यक्ष हरीश धामी, उत्तराखण्ड जनजाति परिषद के उपाध्यक्ष कैलाश रावत, अध्यक्ष जिला पंचायत प्रकाश जोशी, अध्यक्ष जिला पंचायत चंपावत खुशाल सिंह अधिकारी, विधायक पिथौरागढ़ मयूख महर, जिलाधिकारी पिथौरागढ़ सुशील कुमार, मुख्य विकास अधिकारी पिथौरागढ़ विनोद गोस्वामी, पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ रोशन लाल शर्मा, पुलिस अधीक्षक चम्पावत, डी0एस0 कुंवर, अपरजिलाधिकारी पिथौरागढ़ प्रंशात आर्या, प्रमुख धारचूला नेत्र सिंह कुवंर कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुकेश पंत, विधायक धारचूला प्रतिनिधि हीरा चिराल, प्रमुख मुनस्यारी नरेन्द्र रावत, ऊर्जा सलाहकार समिति सुन्दर सिंह बतियाल, जिला पंचायत सदस्य नन्दा देवी, हेम चन्द्र खर्कवाल समेत विभिन्न जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक एवं विभागीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।

Follow us: Uttarakhand Panorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!

Leave a Reply

fourteen − seven =