Uttarakhand gearing up for Chardham Yatra निशुल्क फोटोमैट्रिक पंजीकरण होगा 11 स्थानों में

Uttarakhand gearing up for Chardham Yatra निशुल्क फोटोमैट्रिक पंजीकरण होगा 11 स्थानों में


Preparations are on in full swing in Kedarnath and Badrinath for Chardham Yatra that begins in early May. Governor K.K. Paul has been keeping a watch on preparations while the Uttarakhand Tourism Department is busy making all necessary arrangements to ensure safety and comfort of pilgrims and tourists…


U

ttarakhand Governor Dr. K. K. Paul  recently toured Sonprayag, Lincholi and Kedarnath areas to  review the preparations for the forthcoming Chardham yatra in the state and the preparedness for disaster management. During his visit to Sonprayag, the Governor gave necessary directions on the spot to officials concerned and also took several important decisions.He gave approval for setting up a regular Police Station at Sonprayag. The notification for this will be issued on April 25.

3X4A0015

Final touches being given at Kedarnath before the start of Chardham Yatra


In order to make medical facilities available to pilgrims immediately during the yatra season, availability of a helicopter in Sonprayag has been ensured. An early warning maintenance patrol system will also be started which will give a warning about any disaster on the Kedarnath yatra route and around the lake. An early warning alarm system will also be active in the area.


The Governor also gave directions that the night stay facilities in the Kedarnath area be made more comfortable and organised for pilgrims and SDRF patrolling be ensured on the  16 km Gaurikund–Kedarnath route throughout the yatra season. Earth moving equipment will be installed in the area between Rudraprayag and Sonprayag where works are underway and will be completed in around ten days.  The equipment will record any abnormal earth movement. The Governor directed that dragon lights or light towers be set up on the Kedarnath yatra (trek) route for adequate lighting although  the yatra through the trek route is not allowed after 6 p.m.


In Lincholi, the Governor held a meeting with officers concerned and gave suggestions and instructions for making the yatra hurdle-free. He reviewed the huts provided on the route for pilgrims. The Governor also discussed with the representatives of the  temple committee about the work  required to restore the Samadhi of Adi Shankaracharya at Kedarnath which was damaged during the calamity of June 2013. Secretary to the Governor Anand Bardhan and ADC Janmejaya Khanduri were with the Governor.  

(Pictures below show Governor K.K.Paul inspecting preparations near Kedarnath)

002
001



चार धाम यात्रा में आने वाले तीर्थ यात्रियों एवं पर्यटकों की सुरक्षा एवं यात्रा को सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराये जाने के उद्देश्य से गत वर्षो की भांति इस वर्ष भी उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद् द्वारा मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम के सहयोग से निशुल्क फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था की गयी है।

यह जानकारी देते हुए सचिव पर्यटन शैलेश बगोली ने बताया कि मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम द्वारा तीर्थ यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए गतवर्ष 2015 मे प्रदेश के कुल 11 स्थानों — रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैन्ड ऋषिकेश, हेमकुण्ड गुरूद्वारा ऋषिकेश, जानकीचट्टी, गंगोत्री, गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग, केदारनाथ, पाण्डुकेश्वर एवं गोविन्दघाट — में पंजीकरण केन्द्र स्थापित किये गये थे। इस वर्ष इन पंजीकरण केन्द्रों की संख्या में वृद्धि करते हुए 3 नये स्थानों पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार एवं उत्तरकाशी के हीना तथा दोबाटा में भी पंजीकरण केन्द्र खोले जाने की कार्यवाही गतिमान है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार में पंजीकरण केन्द्र स्थापित कर दिया गया है जबकि हीना एवं दोबाटा में में इन्टरनेट उपलब्धता व अन्य आवश्यक व्यवस्थायें की जा रही हैं ताकि यात्रा आरम्भ होने से पूर्व इन 2 केन्द्रों पर भी फोटो मैट्रिक पंजीकरण कार्य प्रारम्भ किया जा सके। 

गत वर्ष 2015 में कुल 11 पंजीकरण केन्द्रों में 35 काउन्टर्स लगाकर पंजीकरण कार्य किया गया था। इस वर्ष चार धाम यात्रियों की सम्भावित वृद्धि को मध्यनजर रखते हुए 15 अतिरिक्त काउन्टर्स स्थापित करने हेतु मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम द्वारा कार्यवाही की जा रही है इस प्रकार आगामी चार धाम यात्रा में 14 फोटो मैट्रिक पंजीकरण केन्द्रों के 50 काउन्टर्स के माध्यम से यात्री पंजीकरण का कार्य किया जायेगा। 

इस के साथ ही देश विदेश के चार धाम आने वाले यात्रियों हेतु आॅनलाइन पंजीकरण की सुविधा 50 रू0 प्रतिव्यक्ति की दर से पूर्व वर्षो की भांति सुलभ रहेगी। चार धाम 2016 के लिये अब तक 68 यात्रियों द्वारा आनलाइन पंजीकरण कराया जा चुका है। वर्तमान में रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैन्ड ऋ़षिकेश एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग में पंजीकरण काउन्टर्स संचालित हो रहे हैं। इन में पैदल चार धाम करने वाले 57 तीर्थ यात्रियों/साधुओं द्वारा अब तक पंजीकरण करवाया गया है। शेष 11 स्थानों पर 6-7 मई से फोटोमैट्रिक पंजीकरण कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा।


Write to us at Uttarakhandpanorama@gmail.com

Follow us: UttarakhandPanorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!

Leave a Reply

3 × 2 =