उत्तराखंड के मोनोरेल की तरफ बढ़ते कदम Uttarakhand to have Dehradun-Haridwar-Rishikesh Monorail

उत्तराखंड के मोनोरेल की तरफ बढ़ते कदम  Uttarakhand to have Dehradun-Haridwar-Rishikesh Monorail


उत्तराखंड ने अपने महत्वकांशी मोनोरेल प्रोजेक्ट में पहला कदम बढ़ाते हुए चीन की प्रतिष्ठित कंस्ट्रक्शन कंपनी — चाईना रेलवे कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन (इंटरनेशनल) लिमिटेड — के साथ मीटिंग कर यह तय किया कि चीनी कंपनी ग्राउंड सर्वे करके जल्दी अपनी रिपोर्ट प्रदेश सरकार को देगी जिससे इस प्रोजेक्ट को प्रांरभ किया जा सके। उत्तराखंड सरकार ने देहरादून और हरिद्वार के बीच प्रदेश की पहली मोनोरेल बनाने का निर्णय किया है, वहीँ दूसरे चरण में यह मोनोरेल हरिद्वार से ऋषिकेश तक जाएगी। इससे न सिर्फ देहरादून, हरिद्वार और ऋषिकेश के लोगों को फायदा मिलेगा, प्रदेश में पर्यटन और उद्योग को भी बढ़ावा मिलेगा। जहाँ एक तरफ देश में मेट्रो रेल का जोर है, उत्तराखंड सरकार का मोनोरेल कि तरफ रुझान आगे जा कर कई सवाल खड़े कर सकता है। हालाँकि अभी ये शुरुआत ही है, उत्तराखंड सरकार को इस प्रोजेक्ट को लेकर अभी एक लम्बी और ठोस प्लानिंग करनी है…


दे

हरादून-ऋषिकेश-हरिद्वार में संचालित होने वाली मोनोरेल परियोजना के सम्बंन्ध में नई दिल्ली में 11.7.2016 को बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उत्तराखण्ड के कैबिनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखण्ड में मोनोरेल परियोजना से स्थानीय जनता को सार्वजनिक परिवहन की सुविधा उपलब्ध होगी। बैठक में मूसरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष आर.मीनाक्षी सुन्दरम द्वारा परियोजना के संम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण दिया गया।


श्री सुन्दरम् ने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है कि इस परियोजना का सर्वेक्षण कार्य शीघ्र शुरू किया जा सके इस हेतु विभिन्न विशेषज्ञ संस्थाओं का चयन किया जाना है। जिसमें चाईना रेलवे कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन (इंटरनेशनल) लिमिटेड द्वारा अपनी सहमति वयक्त की गयी थी। बैठक में चर्चा के दौरान परियोजना से संबन्धित विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा की गयी। प्रस्तुतीकरण बैठक में राज्य सरकार एवं चाईना रेलवे कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन(इंटरनेशनल) लिमिटेड द्वारा जो सुझाव दिये गये है, उन पर विचार कर शीघ्र निर्णय लिया जायेगा। श्री अग्रवाल ने कहा कि बैठक सार्थक एव सकारात्मक रही।


श्री सुन्दरम ने बताया मोनोरेल परियोजना को 2 चरण में पूर्ण किया जायेगा। प्रथम चरण में देहरादून से ऋषिकेश के बीच चलने वाली इस मोनो रेल की लंबाई 38 कि0मी0 होगी, दूसरे चरण में ऋषिकेश से हरिद्वार 31 कि0मी0 को जोडा जायेगा। इस बैठक में चाईना रेलवे कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन (इंटरनेशनल) लिमिटेड कम्पनी के उपाध्यक्ष हुआंग जिआंमिंग, चाईना की रेलवे कम्पनी के प्रतिनिधि मंडल एवं स्थानिक आयुक्त एस.डी0 शर्मा ने प्रतिभाग किया।

DSC_1703


Write to us at Uttarakhandpanorama@gmail.com

Follow us: UttarakhandPanorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

2 Comments

  1. Moni July 12, at 18:26

    Nice to hear n eager to travel by it :-)

    Reply
    • Uttarakhand Panorama July 12, at 18:32

      Yes, all residents of Uttarakhand eagerly await their very own Monorail. Thanks for your comments.

      Reply

Leave a Reply

2 × 3 =