सरदार पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ पुलिस शुरू करेगी ‘चौकीदारों’ का कौशल बढाने के लिए सिक्योरिटी मैनेजमेंट कोर्स CAPSI SIGNS MOU WITH SPUP TO INTRODUCE ADVANCED COURSES IN SECURITY MANAGEMENT

सरदार पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ पुलिस शुरू  करेगी ‘चौकीदारों’ का कौशल बढाने के लिए सिक्योरिटी मैनेजमेंट कोर्स CAPSI SIGNS MOU WITH SPUP TO INTRODUCE ADVANCED COURSES IN SECURITY MANAGEMENT

नई दिल्ली, 09 मई 2019: चुनावी खींचतान के बीच सुर्खियां बटोर रहे ‘चौकीदार’ शब्द के इतर सरदार पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ पुलिस, सिक्योरिटी एंड क्रिमिनल जस्टिस (एसपीयूपी) ने सिक्योरिटी और चौकीदारी का पेशा चुनने वालों लिए बीए इन सिक्योरिटी मैनेजमेंट कोर्स शुरू  किया है। इसके लिए उसने सेंट्रल एसोसिएशन ऑफ प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री (कापसी) के साथ एमओयू साइन किया है। कापसी सुरक्षा एजेंसियों की देशव्यापी प्रतिनिधि संस्था है। कापसी के चेयरमैन कुंवर विक्रम सिंह और एसपीयूपी के कुलपति एनआरके रेड्डी ने कहा कि इस कोर्स को शुरू  करने का उद्देश्य यह मिथ तोडना है कि सुरक्षा गार्ड या चौकीदार अनपढ या कम पढ लिखे होते हैं। इसके साथ ही उन्हें  देश और विदेश में सुरक्षा इंडस्ट्री में बेहतर नौकरी के अवसर उपलब्ध कराना भी लक्ष्य है।

कापसी के चेयरमैन कुंवर विक्रम सिंह ने कहा कि भारत ही नहीं यूरोप और खाडी देशों में भी निजी सुरक्षा एजेंसियों का कारोबार बढ रहा है। हमारे सिक्योरिटी गार्ड या चौकीदार उस क्षेत्र में डिग्री, डिप्लोमा, सर्टिफिकेट न होने की वजह से इन अवसरों को हासिल नहीं कर पाते हैं। ऐसे में सरदार पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ पुलिस, सिक्योरिटी एंड क्रिमिनल जस्टिस के साथ करार से देश के लाखों चौकीदारों को अपनी शैक्षणिक दक्षता बढानें में मदद हासिल होगी।

सरदार पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ पुलिस, सिक्योरिटी एंड क्रिमिनल जस्टिस के कुलपति एनआरके रेड्डी ने कहा कि देश में सिक्योरिटी गार्ड के लिए कोर्सेज की कमी थी। यही वजह है कि हमने कापसी के साथ हाथ मिलाया है। देश के चौकीदारों के लिए डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स शुरू  होंगे। सिक्योरिटी मैनेजमेंट पर विशेष कोर्स शुरू  करने की आवश्यकता को हमने समझा है। इससे निजी सुरक्षा उद्योग को अच्छी गुणवत्ता के सिक्योरिटी मैनेजर और पर्यवेक्षक मिलेंगे। क्योंकि सुरक्षा कर्मियों की मांग तेजी से बढ रही है।

सेंट्रल एसोसिएशन ऑफ प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री (कापसी) :  सुरक्षा पेशेवरों के लिए प्रमुख संगठन की शुरू आत 2005 में हुई थी। यह  राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध सुरक्षा पेशेवरों के रूप में उभरा है। कापसी दुनिया के 7 मिलियन कर्मचारियों और महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने में लगी है। राष्ट्र को निजी सुरक्षा कवर। सीएपीएसआई की संचालन प्रक्रि याओं को एक प्रतिष्ठित बोर्ड ऑफ गवर्नर्स द्वारा निर्देशित किया जा रहा है जिसमें पूर्व सेना के जनरलों, अनुभवी पुलिस और अर्ध-सैन्य अधिकारियों, केंद्रीय जांच ब्यूरो के उच्च रैंकिंग खुफिया पेशेवरों और प्रमुख सरकारी खुफिया एजेंसियों और प्रसिद्ध जोखिम प्रबंधक शामिल हैं।

सरदार पटेल यूनिविर्सटी ऑफ पुलिस, सिक्योरिटी एंड क्रिमिनल जस्टिस, जोधपुर (सीपीयूपी) की स्थापना राजस्थान सरकार द्वारा 2012 में राज्य विधानमंडल में पारित एक अधिनियम की गई है। सीपीयूपी एक ऐसा संस्थाना है जो साइबर सुरक्षा, आपराधिक न्याय, सड़क से संबंधित महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करता है। एसपीयूपी का उद्देश्य सुरक्षा और आपराधिक न्याय के क्षेत्र में अध्ययन, अनुसंधान की गतिविधियों को विस्तार देते हुए संस्थान को अकादमिक केंद्र बनाना है। यहां पेशेवर, शिक्षाविद और युवा नागरिक सर्वोच्चता प्राप्त करने के लिए आवश्यक समझ, ज्ञान और कौशल प्राप्त करने के लिए मिलकर काम करते हैं।

Central Association of Private Security Industry (CAPSI) Chairman Kunwar Vikram Singh (right) exchanging MOU with Vice Chancellor of the Sardar Patel University of Police, Security & Criminal Justice (Jodhpur) Mr. NRK Reddy, on May 9, 2019. The two organisations will cooperate in framing of syllabus and conduct degree, diploma and certificate courses in security management.


ADVANCED COURSES TO HELP SECURITY PERSONNEL GET JOBS OVERSEAS

 

NEW DELHI, MAY 9, 2019: In a step that would upscale technical skills of private security personnel, Central Association of Private Security Industry (CAPSI) on Thursday signed a Memorandum of Understanding (MoU) with Sardar Patel University of Police, Security and Criminal Justice (SPUP), Jodhpur (Rajasthan) to cooperate and collaborate in framing of syllabus and conduct degree, diploma and certificate courses in security management.

“There is a need for specialized courses on security management. Our association with SPUP will help in getting good quality of managers and supervisors for private security industry. There is a growing demand for private security personnel from abroad also. Our trained manpower with proper degrees and certificates will increase their employability abroad, particularly in Europe and Gulf nations where demand is increasing,” said CAPSI Chairman Kunwar Vikram Singh after signing the MoU.

“There is a huge demand for security personnel which is growing rapidly. Need of private security is growing not only in India but also abroad. It is not possible and feasible for the government to provide security to all. Therefore, private security industry is growing fast. Supply of skilled and trained security personnel is far less than the demand. Our collaboration with CAPSI will help in getting more and more trained personnel on the ground. Going ahead we will introduce new courses and training modules for guards as well as supervisors,” said SPUP Vice Chancellor Mr. NRK Reddy.

According to Kunwar Vikram Singh: “As per the agreements signed between CAPSI and SPUP, the two organizations will establish collaborative relations between them in the area of academics and research besides working in developing curriculum for degrees, diplomas and certificate courses. To begin with, SPUP will introduce ‘BA in Security Management’ in collaboration with CAPSI. CAPSI and SPUP will also cooperate for internships students and their placements. We will also organise workshops, seminars etc. We will also conduct joint research projects and do faculty exchange program for teaching and research.”

Central Association of Private Security Industry (CAPSI) – The preeminent organization for security professionals made its unpretentious beginning in 2005 and has emerged as an “elite association” nationally and internationally renowned security professionals managing world’s largest workforce of 7 million guardsmen and women engaged in providing private security cover to the nation. CAPSI’s governing processes are being guided by an eminent board of governors having former army generals, veteran police and para-military officers, high ranking intelligence professionals from Central Bureau of Investigation and premier governmental intelligence agencies and renowned risk managers.

Sardar Patel University of Police, Security and Criminal Justice, Jodhpur (SPUP) has been established by an Act Passed by the State Legislature, Government of Rajasthan in 2012.  SPUP is pioneering institute that focuses on crucial issues related to security, criminal justice, road safety, gender sensitization, cyber-crime and other related fields. Mission of SPUP is to create an academic centre of excellence dedicated to the study, research and extension activities in the realm of Policing, Security and Criminal Justice where professionals, academicians and young citizen work together to achieve understanding, knowledge and skills required to attain highest ideals of public services and democratic citizenship.


Write to us at Uttarakhandpanorama@gmail.com
Follow us: UttarakhandPanorama@Facebook and UKPANORAMA@Twitter

 

 

0 Comments

No Comments Yet!

You can be first to comment this post!

Leave a Reply

1 × 2 =